रोग मुक्ति हनुमान मंत्र – Rog Mukti Hanuman Mantra

672

अगर व्यक्ति स्वास्थ हो जीवन के हर एक सुख में माजा आता अहि लेकिन वही कोई व्यक्ति बीमार पड़ा हो तो कितनी भी बड़ी खुशी क्यों न हो वह उसका पूरी तरह से rog mukti hanuman mantra आनन्द नहीं उठा पाता. विद्वान लोगो ने स्वास्थ शरीर को इस दुनिया का सबसे बड़ा खजाना बतलाया है.

अगर आप भी किसी असाध्य रोग से पीड़ित है तो नीचे बतलाये जा रहे हनुमान मन्त्र का जाप नियमित मंगलवार को करे, यह मन्त्र बहुत ही प्रभावशाली तथा इससे किसी भी प्रकार का रोग कुछ दिनों में ही दूर हो जाता है.

रोग मुक्ति हनुमान मंत्र 

हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल:।
अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते।।

हनुमान मंत्रा की जाप विधि

हर मंगलवार सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि की नित्य क्रम से निर्वित होकर साफ़ वस्त्र पहने. इसके पश्चात हनुमान जी की पूजा करे और rog mukti hanuman mantra उन्हें सिंदूर व गुड़ चना आदि चढाये. इसके बाद पूर्व दिशा की और मुख करके कुश आसान ग्रहण करे.

Rog mukti mantra

आपने कई बार देखा होगा कि कोइ आदमी बहुत बीमार है | आपने सारे डॉक्टर्स को दिखा दिया है| पर आपको कोइ आराम नही है तो हो सकता है आप किसी प्रेत बाधा से पीड़ित हो

आपको किसी भी प्रेत से दूर होने के लिए लगातार २१ दिनों तक आधा किलो गाय का दूध उसमे नो बूदे शहद ओर १० बूदे गंगाजल को मिला कर रोज सूर्य डूबने के बाद पुरे घर में उस जल से छिडकाव करे | ऐसा आपको लगातार २१ दिन तक करना होगा .

नोट : ऐसे करते समय आपको एक मन्त्र बोलना है :-
संकट कटे मिटे सब पीरा । जो सुमिरे हनुमत बलवीरा |

तपश्चात ऊपर बताये गए मंत्रो से जाप करे तथा इस मन्त्र का जाप नित्य करे. इस मन्त्र का जाप आपको Rog mukti hanuman raksha mantra जल्द ही कुछ समय पश्चात दिखने लगेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here