मंगलवार व्रत कथा - सर्वसुख, राजसम्मान तथा पुत्र-प्राप्ति के लिए

मंगलवार व्रत कथा – सर्वसुख, राजसम्मान तथा पुत्र-प्राप्ति के लिए

हनुमान जी तो सब के प्रिये हैं, और सब हनुमान जी को प्रिये हैं| जो भी भक्त सच्चे मन से भगवान् हनुमान जी को याद करता है, प्रभु उस का कल्याण करते हैं और उस…

1 Like Comment
किस दिन पहने कौन से रंग का वस्त्र - Aaj Konsa Rang Pahne

किस दिन पहने कौन से रंग का वस्त्र – Aaj Konsa Rang Pahne

हमारे जीवन में रंगों का बहुत महत्व है। क्या आप जानते है कि दिनों के हिसाब से रंग पहनना हमारे लिए बहुत लाभकारी सिद्ध हो सकता है। आइए जानते है कौन सा रंग किस दिन…

3 Likes Comment
लक्ष्मण जी ने श्री राम के लिए किया था एक ऐसा त्याग जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते

लक्ष्मण जी ने श्री राम के लिए किया था एक ऐसा त्याग जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते

आप सब ने रामायण के अनेक प्रसंग सुने होंगे। परन्तु आज हम जो प्रसंग आप को बताने जा रहे हैं उसके बारे में बहुत कम लोगों को ज्ञात होगा। हनुमान जी की तरह लक्ष्मण जी…

2 Likes Comment
श्री राम चालीसा

श्री राम चालीसा

भगवान श्री राम को श्री विष्णु का सातवाँ (7) अवतार माना जाता है। श्री राम, रामायण के मुख्य पात्र हैं। भगवान राम की पत्नी का नाम देवी सीता है। श्री रघुवीर भक्त हितकारी। सुन लीजै…

1 Like Comment
भगवद गीता (गुणत्रयविभागयोग- चौदहवाँ अध्याय : श्लोक 1 - 27)

भगवद गीता (गुणत्रयविभागयोग- चौदहवाँ अध्याय : श्लोक 1 – 27)

अथ चतुर्दशोऽध्यायः- गुणत्रयविभागयोग (ज्ञान की महिमा और प्रकृति-पुरुष से जगत्‌ की उत्पत्ति) श्रीभगवानुवाच परं भूयः प्रवक्ष्यामि ज्ञानानं मानमुत्तमम्‌ । यज्ज्ञात्वा मुनयः सर्वे परां सिद्धिमितो गताः ॥ भावार्थ : श्री भगवान बोले- ज्ञानों में भी अतिउत्तम…

Like Comment
मंगलवार को हनुमान जी को इन छोटे छोटे उपायों से करें प्रसन्न

मंगलवार को हनुमान जी को इन छोटे छोटे उपायों से करें प्रसन्न

मंगलवार का दिन बजरंग बलि हनुमान को समर्पित है इस दिन अगर उनकी पूजा सच्चे मन और सही भावना से आस्था के साथ की जाए तो मनवांछित फल शीघ्र ही प्राप्त होते हैं| दुसरे दिनों…

2 Likes Comment
शिव के पहले ज्योतिर्लिंग की स्थापना क्यों और किसने की थी

शिव के पहले ज्योतिर्लिंग की स्थापना क्यों और किसने की थी

भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे पहला ज्योतिर्लिंग सोमनाथ ज्योतिर्लिंग है जो की गुजरात के सौराष्ट्र में मौजूद है| शिव पुराण के अनुसार इस ज्योतिर्लिंग की स्थापना स्वयं चंद्रदेव ने की थी| प्रजापति दक्ष…

Like Comment
Rog Mukti Hanuman Mantra - रोग मुक्ति हनुमान मंत्र

Rog Mukti Hanuman Mantra – रोग मुक्ति हनुमान मंत्र

अगर व्यक्ति स्वास्थ हो जीवन के हर एक सुख में माजा आता अहि लेकिन वही कोई व्यक्ति बीमार पड़ा हो तो कितनी भी बड़ी खुशी क्यों न हो वह उसका पूरी तरह से rog mukti…

Like Comment
शिव चालीसा - Shiv Chalisa

शिव चालीसा – Shiv Chalisa

शिवजी की आराधना के लिए सबसे आसान मंत्र है “ऊं नम: शिवाय”। इस मंत्र के साथ शिवजी की पूजा में शिव चालीसा का भी उपयोग किया जाता है। शिव चालीसा हिन्दू धार्मिक पुस्तकों में भी…

1 Like Comment
भगवद गीता (क्षेत्र-क्षेत्रज्ञविभागयोग- तेरहवाँ अध्याय : श्लोक 1 - 34)

भगवद गीता (क्षेत्र-क्षेत्रज्ञविभागयोग- तेरहवाँ अध्याय : श्लोक 1 – 34)

अथ त्रयोदशोsध्याय: श्रीभगवानुवाच (ज्ञानसहित क्षेत्र-क्षेत्रज्ञ का विषय) श्रीभगवानुवाच इदं शरीरं कौन्तेय क्षेत्रमित्यभिधीयते। एतद्यो वेत्ति तं प्राहुः क्षेत्रज्ञ इति तद्विदः॥ भावार्थ : श्री भगवान बोले- हे अर्जुन! यह शरीर ‘क्षेत्र’ (जैसे खेत में बोए हुए बीजों…

1 Like Comment