चमत्कार: एक ऐसा शिवलिंग जो बदलता है दिन में 3 बार रंग

आपको कभी भी सुनने को मिला कि कोई शिवलिंग अपना रंग भी बदल सकता है, जी हाँ, आज हम आपको इस चमत्कारी शिवलिंग के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे जो दिन में 3 बार अपना रंग बदलता है| वैसे तो अाप अनेक मंदिरों में गए होंगे और वहां शिवलिंग के दर्शन भी किए होंगे परन्तु ऐसा मंदिर नहीं देखा होगा जहां शिवलिंग का रंग परिवर्तित होता रहता है, जिसका अनुमान आज तक वैज्ञानिक भी नहीं लगा सकें| यहाँ तक की इस शिवलिंग का रहस्य जानने की इच्छा बाहरी देश के वैज्ञानिकों द्वारा भी की गई किन्तु उन्हें भी इसका राज़ पता नहीं चला|

कहाँ स्थित है ऐसा मंदिर:

ऐसा अदभुद मंदिर जहाँ शिवलिंग के रंग परवर्तित होते है राजस्थान के धोलपुर जिले में चम्बल में स्थित हैं| इसे अचलेश्वर महादेव के मंदिर से जाना जाता है| यहाँ पर मान्यता है कि इस मंदिर में जो व्यक्ति मन्नत लेकर आता है उसकी वो मन्नत पूर्ण हो जाती है| भगवान हमेशा खुश होकर अपने भक्तों को उनकी इच्छा का फल देते हैं| श्रद्धालु दुनिया भर से दूर दूर जगहों से इस मन्दिर में दर्शन करने आते हैं|

चंबल जो की बहुत दूर है, इस स्थान पर स्थित होने के बावजूद यहां आने वाले भक्तों की कोई कमी नहीं है| उनकी संख्या दिन भर दिन बढ़ती रहती है| पहले यह स्थान इतना लोकप्रिय नहीं था| माना जाता है कि यह स्थान जंगली जानवरों और डकैतों की चुंगल में था, लेकिन जब से धौलपुर के इस शिवलिंग अचलेश्वर महादेव को प्रसिद्धि मिलने लगी है, भक्तों की संख्या भी अत्याधिक तेजी से बढ़ती जा रही है| 

शिवलिंग का रंग बदलना:  

इस प्रसिद्ध मंदिर में शिवलिंग का रंग दिन में 3 बार बदलता है, और इसके पीछे का रहस्य किसी को मालूम नहीं है| यह कैसे रंग में परिवर्तन लाता है आज भी राज की बात ही है| शिवजी की शिवलिंग दिन में 3 बार रंग बदलकर सभी को हैरान कर देती है| ऐसा कहा जाता है कि यह मंदिर हजारों साल पुराना है|

प्रातःकाल के समय इस शिवलिंग का रंग लाल होता है, दोपहर के वक्त केसरिया रंग हो जाता है और रात को काला रंग हो जाता है| यहाँ आने वाले श्रद्धालु इसे चमत्कार समझते है| कुछ समय पहले कुछ भक्तों ने इसकी खुदाई की ताकि इसकी गहराई का पता लगाने का प्रयत्न किया परन्तु वे असमर्थ रहें| अंत में उन्होंने इसे प्रभु का चमत्कार मान कर खुदाई बंद कर दी|

इस मंदिर में भक्ति करने से क्या मिलते है लाभ: 

भगवान शिव की पूजा का खास महत्व होता है, भोले भंडारी भी इस दौरान अपने भक्तों को निराश नहीं करते हैं और खुलकर मुरादें पूरी करते हैं|  इस मंदिर में जो भी जाता है और अपनी मन्नत मांगता है वो हेमशा पूर्ण होती है| अगर किसी के विवाह में बाधा आती है तो वे इस मंदिर में शादी के लिए प्रार्थना करता है तो उसकी शादी बहुत जल्द हो जाती है| लड़कियों को मनचाहा वर शिवजी की कृपा से मिलता है| शिवलिंग की मान्यता दिनोंदिन बढ़ती जा रही है|