कहानियाँ

51 शक्तिपीठों में से एक नैना देवी के दर्शन करने से सभी दुःख दूर...

नैना देवी हिंदुयों के पवित्र तीर्थ स्थलों में से एक है। यह हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में है और समुद्र तल से 11000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इस मंदिर के बारे में...

भगवान श्री राम ने क्यों दिया था अपने ही भाई लक्ष्मण जी को मृत्यु...

क्या आप रामायण के इस प्रसंग के बारे में जानते हैं जब श्री राम को न चाहते हुए भी जान से प्यारे अपने अनुज लक्ष्मण को मृत्युदंड देना पड़ा। आइए जानते हैं कि ऐसा क्या हुआ...

हम जो देखना चाहते हैं, हमे केवल वही दिखाई देता है

एक बार गुरु द्रोणाचार्य ने दुर्योधन और युद्धिष्ठिर की परीक्षा लेने के बारे में सोचा। उन्होंने उन दोनों से राज्य का भ्रमण कर के आने को कहा। उन्होंने युद्धिष्ठिर से कहा कि जाओ और पता लगाकर आओ की राजधानी में दुर्जन...

महाभारत युद्ध में पांच बार मरने से बचाया श्री कृष्ण ने अर्जुन को

महाभारत के युद्ध में कौरवों को हराकर पांडवों को जीत हांसिल हुई। परन्तु इस जीत का सारा श्रेय भगवान श्री कृष्ण को जाता है। उन्होंने युद्ध में पांडवों की हर परिस्थिति से निकलने में...

लक्ष्मण को क्यों लेनी पड़ी थी जल समाधि

रामायण के अनुसार भगवान श्री राम से जुडी कई ऐसी कथाएं है जिनके बारे में आज भी बहुत ही कम लोगों को पता है| शायद ही आपको पता हो की लक्ष्मण शेषनाग के अवतार...

भक्ति से प्रसन्न हनुमान जी ने प्रकट होकर पूरी की थी मनोकामना – सालासर...

चूरू. राजस्थान के चूरू जिले में राम के प्रिय भक्त और ज्ञानियों में अग्रगण्य हनुमानजी का सिद्ध मंदिर जो सालासर बालाजी के नाम प्रसिद्ध हैं। देश के बेहद चमत्कारिक मंदिरों में से एक सालासर...

भगवान् शिव ने ब्रम्हा जी का सर क्यों काटा और केतकी के फूल को...

भगवान् भोलेनाथ को कई वस्तुएं नहीं चढ़ाई जाती जैसे की लाल पुष्प शिवलिंग पर नहीं चढ़ाये जाते भगवान् शिव पर हमेशा ही सफ़ेद पुष्प अर्पित किये जाते हैं| पर केतकी के पुष्प सफ़ेद होने...

आखिर ऐसा क्या हुआ था की शनि देव को उनकी ही पत्नी ने दे...

शनि देव, सूर्य देव तथा देवी छाया के पुत्र हैं। शनि देव के कहर से हम सब डरते हैं। शनि देव के अशांत होने से हमारे जीवन में कष्ट आने आरम्भ हो जाते हैं।...

देवी सीता की पायलों को देखकर क्यों रोने लगे श्री राम

श्री राम राजा दशरथ के पुत्र थे। उनका विवाह देवी सीता से हुआ। देवी सीता राजा जनक की पुत्री थी। इस बात से तो हम सब अवगत हैं कि श्री राम तथा देवी सीता रामायण के प्रमुख...

भगवान् शिव और देवी पार्वती के पुत्र कार्तिकेय का जन्म क्यों और कैसे हुआ...

वेदों के अनुसार भगवान् शिव और पार्वती के दो पुत्र थे बड़े पुत्र कार्तिकेय और छोटे पुत्र गणेश। पुराणों के अनुसार कार्तिकेय के जन्म की कथा इस प्रकार है| देवी सती अपने पति भगवान...