नवरात्रों में क्यों जलाई जाती है अखंड ज्योत

नवरात्रों के 9 दिन जलाई जाने वाली अखंड ज्योत माता के प्रति आपकी अखंड आस्था का प्रतीक मानी जाती है। यह ज्योत नवरात्रों के 9 दिन लगातार जलती रहती है। आईये जानते हैं कि माँ कि अराधना के लिए यह अखंड ज्योत क्यों जलाई जाती है और इसका क्या महत्व है।

नवरात्र पर्व के दौरान अखंड ज्योति जलाने से घर में सुख-समृद्धि का निवास होता है और शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है।

माना जाता है कि अखंड ज्योत के समक्ष किए गए जप का साधक को हजार गुना फल प्राप्त होता है।

माना जाता है कि नवरात्र में विद्यार्थियों के लिए घी का दीपक जलाना शुभ रहता है।

नवरात्र में घी एवं सरसों के तेल का अखंड दीपक जलाने से त्वरित शुभ कार्य सिद्ध होते हैं।

ध्यान रखें कि घी युक्त ज्योति देवी के दाहिनी ओर तथा तेल युक्त ज्योति देवी के बाईं ओर रखनी चाहिए।

शनि के कुप्रभाव से मुक्ति के लिए तिल्ली के तेल की अखंड ज्योत शुभ मानी जाती है।

नवरात्र में दीपक जलाए रखने से घर-परिवार में सुख-शांति एवं पितृ शांति रहती है।

अखंड ज्योत पूरे नौ दिनों तक अखंड रहनी चाहिए।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here