श्री गणेश अमृतवाणी: Shree Ganesh Amritwani

Shree Ganesh ki kripya paane ke liye un ka simran prati din karein. Ganesh bhagwan aap sab pe kripa karein. Jai Ganesha.

श्री शनि देव की सत्य कथा – Shri Shani Dev Ki Satya Katha (Video)

शनि देव के बारे में तो हर मनुष्य जानता हैं| कुछ लोग उन से डरते हैं और कुछ उन से बेहद प्रेम करते हैं| परन्तु उन से डरने की कोई…

Dhammachhetra – The Lost Land Of Buddha

There’s a campaign that’s been gaining mileage ever since it started in March 2009. This international sign campaign asks for signatures of people on a request letter that will ask…

Ramayan Aur Ramsethu – The Real Truth

Since ages, we have been told about Lord Rama and how he went to Lanka. But what about Ramsethu? Is it real or fake? What is the truth about it?…

किस प्रकार तोड़ा ज्वालामुखी देवी ने अकबर का अभिमान

हिन्दू धर्म की प्रचलित कथा के अनुसार भगवान शिव के तांडव से हो ब्रह्माण्ड में हो रहे हाहाकार से देवलोक को बचाने के लिए विष्णु जी ने अपने सुदर्शन चक्र से देवी सती के…

शिवलिंग पूजा की विधि

शिवलिंग भगवान शिव और देवी पार्वती का आदि-अनादि रूप है| यह पुरुष और स्त्री की समानता का प्रतीक भी है| लिंग शब्द का अर्थ है- चिन्ह, निशानी या प्रतीक|  इस…

चामुण्डा देवी चालीसा

चामुण्डा देवी की साधना में दुर्गा जी या अम्बे मां की आरती या चालीसा का ही प्रयोग किया जाता है। चामुण्डा देवी दुर्गा माँ के सभी स्वरूपों में से प्रमुख है। चामुण्डा…

चित्तौड़गढ़ की रानी पद्मावती का इतिहास

हर जगह रानी पद्मावती की चर्चा है जिसका कारण संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती है अब उन्होंने इस फिल्म में क्या दिखाया है यह तो फिल्म रिलीज होने के…

जय श्री राम – राम भजन सुन के जीवन सफल बनाइये

भगवान श्री राम को दुनिया में हर इंसान ह्रदय से प्रेम करता है| यह एक सत्य है जिसको कोई झुटला नहीं सकता। आईये आज मिल के श्री राम भगवान का…

शिव जी की आरती

जय शिव ओंकारा हर ॐ शिव ओंकारा | ब्रम्हा विष्णु सदाशिव अद्धांगी धारा ॥ ॐ जय शिव ओंकारा…… एकानन चतुरानन पंचांनन राजे | हंसासंन ,गरुड़ासन ,वृषवाहन साजे॥ ॐ जय शिव…

शनि देव की आरती

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी। सूरज के पुत्र प्रभु छाया महतारी॥ जय.॥ श्याम अंक वक्र दृष्ट चतुर्भुजा धारी। नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥ जय.॥ क्रीट मुकुट शीश रजित…

कुंज बिहारी की आरती

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की ॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला। श्रवण में कुण्डल झलकाला, नंद के आनंद नंदलाला। गगन सम अंग कांति काली, राधिका…