जयपुर में स्तिथ यमुना देवी को समर्पित यमुनोत्री मंदिर

यमुनोत्री मंदिर 19 वीं सदी में जयपुर की महारानी गुलेरिया द्वारा बनवाया गया था। यह मंदिर गढ़वाल हिमालय के पश्चिम में समुद्र तल से 3235 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इस मंदिर में यमुना देवी की मूर्ति के साथ – साथ हिंदू भगवान यम की भी मूर्ति है। कहा जाता है कि यम हिंदू देवी यमुना का बड़ा भाई है।

क्या आपने पढ़ा?

क्यों नहीं अपनाया सूर्य देव ने अपने ही पुत्र शनि द... हिन्दू धर्म में शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है| शनि देव अपने पक्षपात रहित न्याय के कारण ही न्याय के देवता के रूप में प...
देश को महान बनाने में सरकार का नहीं बल्कि वहाँ की ... द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी ने ब्रिटेन का शक्कर भरा हुआ जहाज बमबारी करके डुबो दिया था। ब्रिटीश रेडीयो पर घोषणा हुई कि ...
7 लोकप्रिय व्यक्ति और उनके असाधारण व्यक्तित्व जिनक... इंसान इस धरती का सबसे रहस्यमय व विचित प्राणी है. जैसे ही हमें लगता है की हमें किसी विख्यात इंसान के बारे में सब कुछ अच्छे से ...
घर को नकारात्मक ऊर्जा से बचाना है तो मुख्य द्वार प... कहा जाता है कि घर में सकारात्मक व नकारात्मक ऊर्जा दरवाजे के रास्ते ही अंदर आती है। अगर आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव ...
ब्राह्मण होते हुए भी क्यों था परशुराम का स्वभाव क्... परशुराम जी का जन्म हिन्दू पंचांग के अनुसार वैशाख मास के शुकल पक्ष की तृतीया तिथि को हुआ था| इनका जन्म ऋषि जमदग्नि के घर हुआ| ...
loading...

Leave a Reply

avatar
500
  Subscribe  
Notify of