आखिर किसका पैसा बदल रहे है ये बैंक

पूरे देश में करीबन 1,25,000 बैंक की ब्रांच है.

अगर एक बैंक एक दिन में सिर्फ 200 आदमियों के भी पैसे बदल दे तो
2,50,00,000 ( अढाई करोड़ ) लोगों के पैसे बदल सकते है.

यानि की अढाई करोड़ परिवारों में नकद रकम आ सकती है.
9 दिन में भी ये काम नहीं हुआ तो सोचो भ्रष्टाचार की जड़ें कितनी गहरी है.



आखिर किसका पैसा बदल रहे है ये बैंक ?
आम जनता का या कालेधन वालों का ?

काला धन / भ्रष्टाचार ख़त्म करना है तो स्त्रोत पर ही मार करनी होगी.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here