गणेश जी की इन मूर्तियों से प्राप्त होती है रिद्धि-सिद्धि

शास्त्रों के अनुसार गणेश जी को प्रथम पूज्य देव कहा जाता है| हिन्दू धर्म में किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले गणेश जी की पूजा की जाती है| माना जाता है कि गणेश जी के पूजन के साथ कार्य आरम्भ करने से बिना बाधा के कार्य में सफलता मिलती है| आइए जानते हैं गणेश जी की ऐसी चमत्कारी मूर्तियों के बारे में जिनकी पूजा से घर-परिवार पर देवी लक्ष्मी सहित सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं और गरीबी दूर होती है|

हल्दी की गांठ से बनी गणेश मूर्ति

हल्दी की ऐसी गांठ जिसमें गणेश जी की आकृति दिखाई दे रही हो, ऐसी गांठ की गणेश जी का ध्यान करते हुए पूजा करने से शुभ फल प्राप्त होते हैं| कहते हैं कि सोने से बनी और हल्दी से बनी गणेश प्रतिमा समान फल प्रदान करती है|

गोमय यानी गोबर से बनी गणेश मूर्ति

माना जाता है कि गोमय में महालक्ष्मी जी का वास होता है| इसी कारण गोमय से बनी गणेश मूर्ति की पूजा करने से गणेश जी के साथ ही लक्ष्मी कृपा भी मिलती है| घर में स्वयं गोमय से गणेश जी की आकृतियां बनाएं और उसकी पूजा करें|

लकड़ी से बनी गणेश मूर्ति

शास्त्रों में कहा गया है कि खास वृक्ष जैसे पीपल, आम, नीम आदि में देवी-देवताओं का वास होता है| इन पेड़ों की लकड़ियों से बनी गणेश मूर्ति को को घर के मुख्य द्वार पर लगाना चाहिए तथा इन पेड़ों की लकड़ी से बनी गणेश मूर्ति की पूजा करने से घर के सभी दोष दूर हो जाएंगे|

श्वेतार्क की गणेश मूर्ति

सफेद आकड़ें की जड़ में गणेश जी की आकृति अर्थात मूर्ति बन जाती है| इसे श्वेतार्क गणेश भी कहा जाता है| इस मूर्ति की पूजा करने से सुख – सौभाग्य बढ़ता है| रविवार या पुष्य नक्षत्र में श्वेतार्क गणेश की मूर्ति घर में लेकर आएं और रोज इसकी पूजा करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...