क्या है टैरो कार्ड रीडिंग? इसके तरीके और इसे जुड़ी कुछ बातें

ज्योतिष की दुनिया में भविष्य की जानकारी देने वाली जन्म-कुंडली, हस्तरेखाएं, अंकज्योतिष आदि विधाओं में मौजूद एक विधा टैरो कार्ड रीडिंग भी है| टैरो कार्ड जो की ताश के पत्तों की तरह दिखते है, उसके ऊपर कुछ रहस्यमय और रंगीन चित्र बने होते है जो लोगों का भविष्य जानने के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं| यह भविष्य में होने वाली घटनाओं का अंदाजा लगाने में सहायक होते है|

आपको जान कर हैरानी होगी कि भविष्य की जानकारी देने वाली टैरो कार्ड रीडिंग चौदहवीं शताब्दी में इटली में मनोरंजन के माध्यम के तौर पर अपनाई गई थी| लेकिन बहुत ही जल्द यह विद्या यूरोप के बहुत से देशों में फैल गई और धीरे-धीरे इसे मनोरंजन का साधन ना मानकर भविष्य जानने की गूढ़ विद्या के तौर पर अपना लिया गया| 18वीं शताब्दी तक पहुंचते-पहुंचते टैरो कार्ड रीडिंग इंग्लैंड व फ्रांस में भी बहुत लोकप्रिय हो गई| 

टैरो कार्ड के ऊपर अंक, रंग, संकेत और पांच तत्व पृथ्वी, जल, अग्नि, वायु, आकाश दर्शाए गए हैं, जिनके आधार पर भविष्य का अनुमान लगाया जाता है| अक्सर देखने को मिलता है कि ज्योतिष की अन्य विधाओं में पुरुषों का बोल बाला होता है वही टैरो कार्ड पढ़ने वाले लोगों में अधिकतर महिलाएं ही होती हैं| इसके पीछे का कारण यह है कि टैरो कार्ड एक ऐसी विद्या है जिसमें गणित का जरा भी प्रयोग नहीं होता, बस अनुमान लगाने की क्षमता अचूक होनी चाहिए| वैज्ञानिक तौर पर भी यह प्रमाणित है कि अनुमान लगाने की क्षमता पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में ज्यादा होती है| इसलिए अधिकतर टैरो कार्ड रीडर महिलाएं होती है|

टैरो में 78 कार्ड होते है, जिनमें से 22 कार्ड मेजर अर्काना, अर्काना शब्द लैटिन भाषा से निकला है जिसका अर्थ है रहस्यमयी, व 56 कार्ड माइनर अर्काना होते हैं|

टैरो कार्ड रीडिंग के तरीके-

तीन कार्ड का तरीका:

इसमें तीन कार्ड का ड्रा दर्शाया जाता है जो की आपके काल यानि भूत, भविष्य और वर्तमान के बारे में जानकारी देता है या फिर परिस्थिति, सुझाव और बचाव के नतीजे बताता है|

पांच कार्ड का तरीका: 

ये कार्ड का तरीका भी पांच बातें बताता है जिनमे से तीन आपके काल से जुड़ी है और 2 में सुझाव और नतीजे को दर्शाता है| इसका मतलब पांच तत्वों से जोड़ कर भी भविष्य की झलकियों को समझाया जा सकता है जो आपके व्यव्हार और माहौल से सम्बंदित है|

सात कार्ड का तरीका: 

इसमें 7 बातों का पता चलता है जिसमे 3 आपके काल से जुड़ी है, इसके अलावा आपकी परिस्थिति, आपके जीवन की बाधाएं, उनसे निकलने के 2 तरीके शामिल है|

टैरो कार्ड रीडिंग से जुड़ी कुछ बातें

सबसे पहले आप जो भी प्रश्न पूछना चाहते हैं उसे एक बार अपने मन में अच्छी तरह से दोहरा लें या अधिक स्पष्टता के लिए प्रश्न को किसी कागज पर लिख लें।

  • इसके बाद “कार्ड चुने” एक के बाद एक कर तीन कार्ड चुनें|
  • पहला कार्ड आपके प्रश्न पूछते समय की मन की स्थिति को दर्शाता है|
  • दूसरा कार्ड आपको आपकी इच्छाओं की पूर्ति के लिए जो प्रयत्न करने होंगे, उन्हें    बताता है|
  • तीसरा और अंतिम कार्ड आपको परिणाम स्वरूप आपके प्रश्न का उत्तर देता है|