श्री गणेश आरती – Shri Ganesh Aarti

Bhagwan Shri Ganesha se kaun prem nahin karta. Ganesh Ji to sab se pyaare hain. Aaiye un ka gunngaan karein.

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा

एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी
माथे पर तिलक सोहे, मूसे की सवारी

पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा
लड्डुअन का भोग लगे सन्त करे सेवा

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा

अँधे को आँख देत कोढ़िन को काया
बाँझन को पुत्र देत निर्धन को माया

सूर श्याम शरण आए सफल कीजे सेवा
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा

माता जाकी पार्वती पिता महादेवा
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा..