नए साल 2017 में माननीय प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी ने राष्ट्र को दी कई सौगातें

आज माननीय प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश को शाम 7:30 बजे एक बार फिर देश को संबोधित किया| अपने संबोधन में मोदी जी ने कहा की नोटबंदी का ये फैसला आनेवाले समय में देश की अर्थव्यवस्था के लिए मील का पत्थर साबित होगा| 125 करोड़ देशवासियों ने जो सयम और धैर्य का परिचय देते हुए इस साहसिक कदम का समर्थन किया है वो आगे चल कर देश के उज्जवल भविष्य की नीव है| दिवाली के बाद के घटनाक्रम को देखते हुए पता चलता है की देश की जनता भी भ्रष्टाचार, कालाबाजारी और महंगाई से जनता त्रस्त हो चुकी है और बदलाव चाहती है|

मोदी जी ने शायराना अंदाज में कहा ” कुछ तो बात है की हस्ती मिटती नहीं हमारी”| लोगों ने लाखों चिट्ठी में अपना दर्द और राय दोनों भेजा इससे पता चलता है की जनता मुझे अपना मानती है और मेरे फैसलों का समर्थन करती है| नव वर्ष में बैंकों को सामान्य अवस्था में लाने के लिए जरूरी कदम उठाये जा रहें हैं ख़ास कर ग्रामीण छेत्रों में|

नोटबंदी से कालाबाजारी, आतंकवाद, नक्सलवाद और महंगाई पर रोक लगाने में बड़ी मदद मिलेगी| साथ ही उन्होंने लाल बहादुर शास्त्री, राम मनोहर लोहिया, जय प्रकाश नारायण और दीनदयाल उपाध्याय को भी याद किया| उन्होंने कहा की मात्र 24 लाख लोग मानते हैं की उनकी आय 10लाख रूपए या उससे अधिक है जो की बिलकुल भी गले से नहीं उतरती| इसमें टेक्नोलॉजी का भी बड़ा योगदान रहा है|

प्रधानमन्त्री जी ने कई नयी योजनाओं का भी एलान किया| जैसे प्रधानमन्त्री आवास योजना में शहरी छेत्रों में 9लाख तक ब्याज दर में 4% और 12 लाख तक 3% की छूट मिलेगी साथ ही ग्रामीण छेत्रों के लिए 2 लाख तक ब्याजदर में 3% छूट मिलेगी|

जिन किसानो ने डिस्ट्रिक्ट कॉपरेटिव बैंक या सोसाइटी से कर्ज लिया है उनकी 60 दिन का ब्याज सरकार चुकाएगी| साथ ही 3 करोड़ किसान क्रेडिट कार्ड को रुपे कार्ड में बदलने की तैयारी की जा रही है|

छोटे और मध्यम उद्योग की क्रेडिट गारंटी 1 करोड़ से बढ़ा कर 2 करोड़ कर दी गयी ये गारंटी नॉन बैंकिंग फाइनेंसियल कंपनी के कर्ज पर भी लागू होगी| कैश क्रेडिट लिमिट 20 से बढ़ा कर 25% और डिजिटल लेन देन पर 20 से बढ़ा कर 30 % की गयी है साथ ही 2 करोड़ की लेन देन पर 8% आय मान कर टैक्स जुड़ता है पर अब 6% ही आय माना जाएगा|

गर्ववती महिलाओं को भी सभी 650 से ज्यादा जिलों में 6000 रूपए की आर्थिक मदद का भी एलान किया|

वरिष्ठ नागरिकों को नव वर्ष की सौगात देते हुए ये घोषणा की गयी है की 7.5 लाख पर 10 साल के लिए 8% ब्याज दर निर्धारित की गयी है|

साथ ही माननीय प्रधानमन्त्री जी ने लोक सभा और विधान सभा चुनाव एक साथ कराने पर भी जोर दिया| उन्होंने कहा की अगले सत्र में इस विषय पर चर्चा जरूर की जायेगी| उन्होंने कहा की जैसे सभी दलों ने नोटबंदी का समर्थन किया है वैसे ही लोक सभा और विधान सभा चुनाव के मुद्दे पर भी साथ जरूर देंगे|

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here