कहानियाँ

मंदोदरी को रावण से विवाह क्यों करना पड़ा था

रावण के बारे में सभी जानते है की उसकी पत्नी का नाम मंदोदरी था परन्तु मंदोदरी की असली पहचान के बारे में कोई नहीं जानता| रामायण में रावण के मरने के उपरान्त मंदोदरी का अध्याय भी समाप्त हो गया था परन्तु शायद ही आपको पता होगा की रावण की...

भगवान गणेश का जन्म किन परिस्थितियों के कारन हुआ – यह है इसकी कथा

हिन्दू धर्म में मान्यता है कि किसी भी कार्य की शुरुआत से पहले भगवान गणेश को याद करना चाहिए| गणेश जी की अराधना से किसी कार्य को शुरू करना बहुत शुभ माना जाता है| Ganesh Ji ke janm ki katha गणेश जी के जन्म की कथा बहुत रोचक है| एक बार...

बाबा खाटू श्याम कौन थे और क्या है उनकी कहानी

भारत में बहुत से चमत्कारिक धार्मिक स्थल हैं और “खाटू श्याम मंदिर” भी इन्हीं प्रसिद्द स्थलों में से एक है| यह मंदिर भीम के पोते और घटोत्कच के पुत्र बर्बरीक का है जहाँ इनकी श्याम-रुप में पूजा की जाती है| ऐसी मान्यता है कि जो भी इस मंदिर में...

किस प्रकार तोड़ा ज्वालामुखी देवी ने अकबर का अभिमान

हिन्दू धर्म की प्रचलित कथा के अनुसार भगवान शिव के तांडव से हो ब्रह्माण्ड में हो रहे हाहाकार से देवलोक को बचाने के लिए विष्णु जी ने अपने सुदर्शन चक्र से देवी सती के 51 टुकड़े किए थे और वह पृथ्वी पर जिस जिस जगह गिरे वहां शक्तिपीठ की उतपत्ति हुई| ज्वाला जी...

आप एक अच्छे इंसान हैं, लेकिन क्या आप एक पुण्य आत्मा हैं?

एक औरत अपने बच्चे को एक संत व्यक्ति के पास लेकर गई। उसने संत से कहा, “मेरे डॉक्टर ने कहा है कि मेरे बेटे को मधुमेह है। इसलिये उसे मीठा नहीं खाना चाहिए। लेकिन अगर मैं उसे मना करुंगी, तो वो मीठा खाना बंद नहीं करेगा। चूंकि आप एक...

क्यों मृत्यु नहीं है जीवन का अंत

मृत्यु का अर्थ है भौतिक शरीर से आत्मा का जुदा होना है। मृत्यु नये और बेहतर जीवन का एक प्रारंभिक बिन्दु बन जाता है। यह जीवन के उच्च रूप का द्वार खोलता है। यह संपूर्ण जीवन का केवल एक प्रवेशद्वार है। जन्म और मृत्यु माया के मायाजाल हैं। जन्म...

रामकथा के इन घटनाक्रम से प्रेरणा लेकर इन्‍हें जीवन में आत्‍मसात करें

रावण वध कर, अयोध्या लौटने पर हम भगवान ​श्री राम के स्वागत में हर साल दीवाली का त्यौहार हर्षोउल्लास के साथ मनाते है। जबकि इसी उलट आज हम मुकाम हासिल करने के लिए एक ऐसी अंधी दौड़ में शामिल है जहां हम श्री राम जी की सीखाई हुई सीखें...

चित्तौड़गढ़ की रानी पद्मावती का इतिहास

इतिहास के अनुसार रानी पद्मावती का असली नाम पद्मिनी था| पद्मिनी सिंघल प्रदेश के राजा गंधर्वसेन और रानी चम्पावती की पुत्री थी पद्मावती के पास हीरामणि नामक तोता था जो की उन्हें प्राणों से भी प्रिय था| राजकुमारी पद्मिनी बहुत ही सुन्दर थी उनके बड़े होने पर उनकी सुन्दरता...

क्या है मोटर साईकिल नंबर RNJ 7773 के पीछे का रहस्य? RNJ 7773 Royal...

हमारे देश हिन्दुस्तान की बात ही निराली है| यहाँ के रीती रिवाज और घटनाएं बड़ी ही रोचक तो हैं ही साथ ही कई ऐसे भी राज़ हैं जिनपर विश्वास नहीं हो पाता है| ऐसी ही एक अनसुलझी गुत्थी है राजस्थान के पाली शहर के नजदीक स्थित चोटिल गाँव के...

Traveling To India? Learn How To Translate English to Hindi, Bengali, Marathi, Tamil, Telugu...

Are you planning to Travel to the land of Gods, India? If yes is your answer then you need to learn the local language. And no, there is not one language to learn! Just like the many Gods we worship in India, there are many languages too. I know...

20 Quotes from the Ancient Hindu Scriptures

Most humbly we bow to You, O Supreme Lord. At Your command moves the mighty wheel of time. You are eternal, and beyond eternity. (Artharva Veda) The one...

महा शिवरात्रि पर करें शिव को उनकी प्रिय चीजों से प्रसन्न

भगवान शिव के भक्तों को हर साल महाशिवरात्रि का इंतजार रहता है। महाशिवरात्रि का दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने का बहुत अच्छा अवसर होता है। शिवजी के भक्त...

वीर सावरकर ने हिन्दुत्व और हिन्दूशब्दों की एक परिभाषा दी थी...

हिन्दुत्व हिन्दू धर्म के अनुयायियों को एक और अकेले राष्ट्र में देखने की अवधारणा है। हिन्दुत्ववादियों के अनुसार हिन्दुत्व कोई उपासना पद्धति नहीं, बल्कि...

जब त्रिपुरारी ने खंडित किया देवराज का अहंकार

देवताओं के राजा देवराज इंद्र को वर्षा के देवता माना जाता है| वेदों के अनुसार देवताओं के राजा इंद्र बड़े ही अभिमानि स्वभाव के...

देवी दुर्गा मंत्र

देवी दुर्गा को हिन्दू धर्म में शक्ति के अवतार में पूजा जाता है। माँ दुर्गा सभी भक्तों को सामान रूप से अपने बच्चों के...

माघ पूर्णिमा पर गंगा स्नान के इन फायदों के बारे में...

शास्त्रों के अनुसार माघ पूर्णिमा को पुण्य की प्राप्ति के लिए महत्वपूर्ण अवसरों में से एक माना गया है। माना जाता है कि माघ...

अगर आप कर्क राशि के हैं तो जाने कुछ ऐसे तथ्य...

कर्क वैसे तो राशियों में चौथे स्थान पर आती है और इस राशि का प्रतिक केकड़ा है और कर्क राशि के स्वामी चन्द्रमा है|...