कहानियाँ

आखिर क्यों अपनी ही माता का वध किया था परशुराम ने

परशुराम जी के पिता का नाम जमदग्नि तथा माता का नाम रेणुका था| परशुराम जी के चार बड़े भाई थे| सब भाईयों में परशुराम जी ही सबसे अधिक गुणी तथा बुद्धिमान थे| भगवान परशुराम को विष्णु जी का आवेशावतार...

मंदोदरी को रावण से विवाह क्यों करना पड़ा था

रावण के बारे में सभी जानते है की उसकी पत्नी का नाम मंदोदरी था परन्तु मंदोदरी की असली पहचान के बारे में कोई नहीं जानता| रामायण में रावण के मरने के उपरान्त मंदोदरी का...

कैसे आया भीम में 10 हज़ार हाथियों का बल?

भीम एक बहुत बलशाली योद्धा था। महाभारत में भीम के बारे में बताया गया है कि भीम में दस हजार हाथियों के समान बल था। एक बार भीम ने अकेले ही अपने बल से नर्मदा नदी...

बालक ध्रुव कैसे बना एक तारा – इसके पीछे की कथा क्या है?

राजा उत्तानपाद के पिता स्वयंभुव मनु और माता शतरुपा थी। उत्तानपाद की दो पत्नियां थीं सुनीति और सुरुचि। राजा उत्तानपाद को अपनी पत्नियों से दो पुत्र प्राप्त हुए। राजा को सुनीति से ध्रुव और सुरुचि से उत्तम नाम के पुत्रों...

त्रिशंकु स्वर्ग क्या है और इसे किसने बनाया

आज कल के समय में मनुष्य अपनी ही बनायीं दुनिया में मस्त रहता है सभी सुख और दुःख की अनुभूति होते हुए भी वह अपने ही मन की करता है| कुछ भी हो चाहे...

सम्पूर्ण सच को जाने बिना किसी के भी व्यवहार के बारे में निर्णय नहीं...

एक बार एक 23 साल का लड़का अपने पिता के साथ रेलगाड़ी का सफर कर रहा था। वह खिड़की से बाहर का नजारा देख कर बहुत खुश हो रहा था। ख़ुशी से उत्त्साहित हो कर वह चिल्लाया...

जीवन में थोडा फासला भी बहुत जरूरी है

कोई आदमी दुख में है तो तुम कहते हो कि इतने परेशान क्यों होते हो! यह सब चलता रहता है; संसार है! अपने को जरा दूर रखो। और यही दुख तुम पर आयेगा तो...