रुद्रप्रयाग – यहाँ हुए थे भगवान शिव अपने रूद्र रूप में प्रकट

रुद्रप्रयाग मंदिर उत्तराखंड में स्थित है। रुद्रप्रयाग मंदिर हिन्दू धर्म के प्रमुख मंदिरों में से एक है। यह दो नदियों के संगम पर स्थित है- अलकनंदा तथा मन्दाकिनी नदी। यह केदारनाथ से 86 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है। इस मंदिर में लाखों श्रद्धालु भगवान शिव से आशिर्वाद लेने आते हैं।

पौराणिक कथायों के अनुसार नारद मुनि ने भगवान शिव का आशिर्वाद पाने के लिए यहां घोर तपस्या की थी। उन्होंने अपनी घोर तपस्या के फल के रूप में शिव जी से संगीत के क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए वरदान माँगा था। भगवान शिव ने इस स्थान में रूद्र के अवतार में प्रकट होकर नारद जी को आशिर्वाद दिया था।