एसिडिटी से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

हमारा पाचन तंत्र हमारे खाने को पचाने के लिए पेट में एसिड बनाता है। जिससे हमारा पाचन तन्त्र नियंत्रित रहता है। परन्तु अगर एसिड की मात्रा हमारे शरीर में बढ़ जाये तो यह एसिडिटी का कारण बन जाती है। कई बार ज्यादा खाने से या ज्यादा देर तक भूखे रहने से भी एसिडिटी की समस्या हो जाती है। परन्तु इन घरेलू नुस्खों को अपनाकर आप अपनी एसिडिटी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

निम्बू

गुनगुने पानी में निम्बू निचोड़ कर पीने से एसिडिटी से राहत मिलती है।

अदरक 

अदरक की चाय पीने से एसिडिटी कम होती है।

बादाम 

पेट में जलन होने पर चार बादाम खाएं। बादाम एसिडिटी को नियंत्रित करने में मदद करता है।

नारियल पानी

अगर आप एसिडिटी की समस्या से परेशान है तो नारियल पानी लें। इससे एसिडिटी से राहत मिलेगी।

मूली 

मूली के ऊपर काला नमक और काली मिर्च पाउडर डालकर खाएं।

सौंफ 

एक चम्मच सौंफ को कच्चा चबाने से भी एसिडिटी से राहत मिलेगी।

अजवायन, सौंफ, जीरा

अजवायन, सौंफ, जीरा व सवा के बीज के एक एक चम्मच को पानी में डाल कर उबालें और फिर छान लें। इस पानी का दिन में दो से तीन बार सेवन करें।

मीठा सोडा

एक गिलास पानी में एक चम्मच मीठा सोडा मिलकर धीरे धीरे पीएं।

अलोएवेरा 

एसिडिटी होने पर अलोएवेरा का जूस पीएं।

त्रिफला 

त्रिफला पाउडर को दूध में मिलाकर पीएं।

पुदीना 

भोजन करने के बाद एक गिलास पुदीने का पानी उबाल कर पीने से एसिडिटी से राहत मिलती है।

 लौंग, इलायची, तुलसी के पत्ते 

एसिडिटी से राहत पाने के लिए लौंग, इलायची तथा तुलसी के पत्तों का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

गुलकंद 

गुलकंद का सेवन भी एसिडिटी में लाभदायक है।

दूध 

जिनको एसिडिटी की समस्या होती है। उन्हें रोज एक गिलास ठंडा दूध पीना चाहिए।

सब्जियां 

पेट में जलन होने पर कद्दू, पतागोभी, गाजर और प्याज से बनी सब्जियों का सेवन करें।

मुलेठी 

मुलेठी के चूर्ण का सेवन करने से एसिडिटी से राहत मिलती है।

आपके कमैंट्स