Home धर्म

धर्म

Hinduism is the World’s most sacred and the oldest religion. Hinduism is a way of life and is often called as the eternal law beyond human origins. Hindu practices include rituals such as worship and recitations, meditation, family-oriented rites of passage, annual festivals, and pilgrimages. Every Hindu should follow honesty, ahimsa, patience, forbearance, self-restraint, compassion….

मातृ शक्ति की कृपा पाने के लिए कन्या पूजन के दौरान इन बातों का...

नवरात्र में सप्‍तमी तिथि से कन्‍या पूजन शुरू हो जाता है और इस दौरान कन्‍याओं को घर बुलाकर उन्हे भोजन कराया जाता है और पूजा की जाती है। कन्याओं को नौ देवी का रूप...

महाभारत काल का योधा जो दो माताओं से आधा आधा पैदा हुआ था

यूँ तो महाभारत में कई वीर योधाओं का वर्णन है सभी एक से एक वीर और बलशाली थे परन्तु एक ऐसा भी योधा था जिसके जन्म की कथा जितनी रोचक है उतनी ही अजीब...

क्या आप जानते है भीष्म की मृत्यु का कारण कौन था?

महाराज शांतनु और देवी सत्यवती को दो पुत्र हुए विचित्रवीर्य और चित्रांगद| चित्रांगद की मृयु बड़े ही कम आयु में युद्ध के दौरान हो गयी थी और विचित्रवीर्य के विवाह के लिए भीष्म ने...

पुत्री के विवाह से नाराज़ होकर पिता ने किया पुत्री का त्याग! शिव से...

भगवान् शिव के बारे में अनेकों कथाएं प्रचलित है इन में से एक कथा उनके विवाह के बारे में भी है| बात उस समय की है जब ब्रम्हा जी के मानस पुत्र दक्ष प्रजापति...

“शुक्रवार व्रत कथा” – Shukravar Vrat Katha || Santoshi Mata || Vidhi Vidhan

हम सातो वारों की व्रत कथा के इस अंक में आपको शुक्रवार को किए जाने वाले संतोषी माता के व्रत के बारे में जानकारी दे रहे हैं. संतोषी माता को हिंदू धर्म में संतोष,...

शिव जी ने किया था अपने पुत्र का वध। जानिये कुछ राज़ की बातें...

भगवान् शिव के बारे में हम जितना जानते है उसके अनुसार भगवान् शिव के दो ही पुत्र थे भगवान् गणेश और भगवान् कार्तिकेय परन्तु शायद ही आपको पता हो की भगवान् शिव का एक...

जाने आखिर क्यों अर्जुन दूर नहीं कर पाए ब्राह्मण की गरीबी?

एक बार श्री कृष्ण और अर्जुन भ्रमण पर निकले तो उन्होंने मार्ग में एक निर्धन ब्राहमण को भिक्षा मागते देखा अर्जुन को उस पर दया आ गयी और उन्होंने उस ब्राहमण को स्वर्ण मुद्राओ...

सीता ही नही भाइयो और पुत्रो का भी त्याग कर दिया था श्री राम...

श्री राम और सीता जी के प्रेम को हर कोई नहीं समझ सकता। कई घटिया सोच रखने वाले लोग आज भी श्री राम और सीता माता के चरित्र पर सवाल उठाते हैं। वह यह...

क्या आप जानते है समुद्र का पानी खारा क्यों है?

महाराजा पृथु के पुत्रों ने जब समुद्रों का निर्माण किया था तो सातों समुद्र मीठे पानी और दूध जैसी द्रव्यों के थे| सभी ने कभी न कभी अवश्य सुना होगा की भगवान् विष्णु क्षीरसागर...

जाने विष्णु के वाराह अवतार के पीछे का रहस्य

भगवान् विष्णु के निवास स्थान बैकुंठ धाम के द्वारपाल जय और विजय नामक दो सगे भाई थे| दोनों पूरी मुस्तैदी और इमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्वाह कर रहे थे| एक दिनकी बात है...