इन घरेलू नुस्खों से पाइए खर्राटों से छुटकारा

खर्राटे लेना कोई परेशानी की बात नही है। क्योंकि बहुत ज्यादा थकान या बंद नाक की वजह से खर्राटे आते हैं। परन्तु अगर यह बहुत ज्यादा आने लगें तो यह कोई सामान्य बात नही है। क्योंकि ज्यादा खर्राटे आने का कारण स्लीप एपनिया हो सकता है। इस बीमारी में या तो व्यक्ति की सांस रुक जाती है या वह खर्राटे लेने लगता है। अगर आप को यह समस्या है तो यह घरेलू नुस्खे आपकी मदद कर सकते हैं।

पुदीने का तेल 

पानी में पुदीने के तेल की कुछ बूंदे मिलाएं और सोने से पहले इस पानी से गरारे करें। ऐसा करने से नाक के छिद्रों की सूजन कम होती है जिससे सांस लेने में आसानी हो जाती है। आप नाक के पास पुदीने का तेल लगाकर भी सो सकते हैं।

दालचीनी 

एक गिलास गुनगुने पानी में 3 चम्मच पिसी हुई दालचीनी मिलाएं और पी लें। रोजाना यह करने से आपको फर्क दिखने लगेगा।

जैतून का तेल 

रात को सोने से पहले शहद के साथ जैतून का तेल का सेवन करने से आपको इस समस्या से राहत मिलेगी। जैतून के तेल में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो सांस लेने में आने वाली परेशानी को दूर करते हैं।

दूध 

रात को सोने से पहले एक कप दूध जरूर पीएं। इससे खर्राटों की समस्या समाप्त हो जाती है।

घी 

सोने से पहले घी को गुनगुना कर लें और ड्रॉपर की सहायता से इसकी एक-दो बूंदों को नाक में डालें। ऐसा रोज करने से आपको फर्क पड़ेगा

टी ट्री ऑयल

पानी में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदे डालकर दस मिनट तक भाप लें। इससे आपका बन्द नाक खुल जायेगा और खर्राटे नही आएंगें।

हल्दी वाला दूध 

रात को सोने से पहले दूध में हल्दी पकाकर पीएं। हल्दी में मौजूद एंटी-सेप्ट‍िक और एंटी-बायोटिक गुण नाक साफ करने में सहायता करते हैं। जिससे सांस लेना आसान हो जाता है।

इलायची पाउडर 

सोने से पहले गुनगुने पानी में इलायची पाउडर मिलाकर पिएं। जल्दी ही आपको असर दिखने लगेगा।

शहद 

सोने से पहले गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीएं। इससे आपको सांस लेने में आने वाली दिक्कतों से राहत मिलती है।

पीठ के बल न सोएं 

कोशिश करें कि पीठ के बल ना सोएं। क्योंकि पीठ के बल सोने से सांस लेने में तकलीफ होती है। जिसकी वजह से खर्राटे आते हैं।

पानी 

पानी कम पीने से शरीर की नमी कम हो जाती है। जिससे हमारी नाक की नली भी सूख जाती है और सांस लेने में तकलीफ होती है। इसलिए कोशिश करें कि ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here