जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस के नागरिक कर रहे हैं सड़क पे तमाशा। नोटबंदी ने किया कंगाल। घर जाने के लिए नहीं हैं पैसे

आपने सड़कों पे तमाशा करने वाली कई बार देखे होंगे, पर जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया के विदेशी नागरिकों को ऐसा करते हिंदुस्तान में कभी नहीं देखा होगा। नोटबंदी ने यह भी करके दिखा दिया। वैसे है तो मज़े की बात।

कुछ विदेशी टूरिस्ट राजस्थान के पुष्कर में छुट्टियां बिताने आये और उसी वक़्त मोदी जी ने नोटबंदी का एलान कर दिया। एकदम से इन विदेशियों के पास जितना पैसा था वह शुन्य हो गया. कहते हैं ना की ज़रूरत के वक़्त इंसान कोई ना कोई हल निकल ही लेता है, यही इन विदेशी नागरिकों ने भी किया। पुष्कर के प्रसिद्ध ब्रह्मा मंदिर व गौ घाट पे वह तरह तरह के करतब करते दिखाई दिए. यह लोग स्थानीय निवासियों से मदद मांगते नज़र आये। उन्होंने अपने साथ बोर्ड भी लगा रखे थे जिन पर लिखा था की आप हमारी मदद कर सकते हैं और मनी प्रॉब्लम।

करतब दिखने वाले दो गुट थे जिनमें 10-12 लोग थे. पुरुष तरह तरह के साज़ बजा रहे थे और महिलाएं अलग अलग तरह के एक्रोबैटिक करतब करते नज़र आयीं। इन विदेशियों को देखने के लिए बहुत सारे लोग इकठ्ठा हो गए थे.

इन विदेशियों का कहना था की उनको यह सब इसलिए करने पड़ रहा है क्योंकि उनके पास पैसे नहीं हैं. बैंकों और एटीएम बिलकुल खाली हैं तो पैसा कहाँ से आएगा। एक जर्मन टूरिस्ट जिसका नाम अद्लरीक है उसका कहना है की स्थानीय नागरिक बहुत अच्छे हैं और उन्होंने उनकी मदद करी और उनकी मदद से उन्होंने 2600 रूपए कमाए जो की उनके काम आएंगे।

france-australia-germany-tourists-on-india-streets

पुष्कर मेला 14 नवम्बर को समापत हो गया था. विदेशी नागरिकों का कहना है की अब उनके पास पानी और खाना खाने तक के लिए पैसे नहीं बचे हैं. अब वह जल्द से जल्द दिल्ली जाना चाहते हैं ताकि वह अपने देश की एम्बेसी को संपर्क करके पैसे का कुछ न कुछ जुगाड़ कर पाएं।

उनका कहना है की ज़रूरतें पूरी करने के लिए उन्हें सड़क पे उत्तर के करतब करने पद रहे हैं. पैसा सब कुछ करवा देता है यह इनको देख के पता चलता हैं.

अदलने, जो एक फ्रेंच नागरिक है, का कहना है की वह कुछ दिन तक एटीएम की लाइन में खड़े रहे पर जैसे ही उनकी बारी आती थी पैसा निकालने की, एटीएम में पैसा समापत हो जाता था.

एक स्थानीय व्यापारी ने बताया की उसको पुष्कर में कारोबार करते 45 साल हो गए और उसने किसी भी विदेशी नागरिक को ऐसे सड़क पे करतब दिखाते पहली बार देखा है.

वाह मोदी जी. आपने तो विदेशियों को भी भारत में नचा दिया। वाह वाह!

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here