अमरनाथ से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

हिन्दू धर्म में अमरनाथ गुफा को बहुत पवित्र तीर्थ स्थान माना जाता है। यह श्री नगर से 3888 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यहां पर भगवान शिव के भक्त बर्फ से बने शिवलिंग के दर्शन करने आते हैं। अमरनाथ गुफा में भगवान शिव से कुछ ऐसे राज जुड़े हैं जिसे जानने के लिए भक्त दूर दूर से यहां आते हैं। आइए जानते हैं वह राज क्या हैं।

अमरनाथ गुफा में बर्फ से बने शिवलिंग के दर्शन करने लोग दूर दूर से आते हैं। परन्तु क्या आप जानते हैं कि यह शिवलिंग हर साल बर्फ से स्वयं तैयार होता है। आश्चर्य वाली बात यह है कि हिमलिंग को तयार करने के लिए कोई जल का स्त्रोत भी नही है। परन्तु फिर भी यह बिना जल के बन जाता है।

क्या आप जानते हैं कि अमरनाथ में हिमलिंग ठोस बर्फ से बना हुआ है। परन्तु हिमलिंग के आस पास जो बर्फ फैली होती है। वह ठोस रूप में नही होती। अगर हम तापमान को हिमलिंग के ठोस होने का कारण बताते हैं तो आस पास की बर्फ पर तापमान का असर क्यों नही होता।

मान्यता है कि अमरनाथ गुफा में भगवान शिव तथा देवी पार्वती सफ़ेद कबूतर के रूप में निवास करते हैं। कुछ भाग्यशाली लोगों को इसके दर्शन भी हो जाते हैं।

अमरनाथ गुफा में भगवान शिव ने देवी पार्वती को अमर होने की कथा सुनाई थी। इस कथा में उन्होंने ऐसा राज खोला था जिसे जानकर देवी पार्वती हैरान रह गई थी। इसलिए माना जाता है कि यहां कण कण में अमर होने का रहस्य छुपा हुआ है।

भगवान शिव ने अमर होने की कथा सुनाते समय देवी पार्वती को बताया था कि उनके गले में मौजूद नरमुंड देवी पार्वती के अब तक हुए पूर्वजन्मों के हैं। देवी पार्वती को अमरत्व का रहस्य नही पता था। इसलिए उन्हें बार बार जन्म और मृत्यु से गुजरना पड़ा जबकि भगवान शिव अमर हैं।

अमरनाथ गुफा एक बहुत ही पवित्र स्थान है। माना जाता है कि जो व्यक्ति यहां दर्शन के लिए आता है वह बहुत ही भाग्यशाली होता है। यहां शिवलिंग के दर्शन करने के बाद उसके कई जन्मो के पाप काट जाते हैं और उनकी मुक्ति का मार्ग खुल जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...