द्वारका में स्थित श्री कृष्ण को समर्पित द्वारकाधीश मंदिर

कृष्ण भक्तों के लिए द्वारिकाधीश मंदिर एक पवित्र तीर्थ स्थल है। द्वारका शहर वह स्थान है जहाँ 5000 वर्ष पूर्व भगवान कृष्ण ने मथुरा छोड़ने के बाद द्वारका नगरी बसाई थी। यहां पर श्री कृष्ण का महल हरि गृह था। जहां आज द्वारकाधीश मंदिर है। द्वारका नगरी आदि शंकराचार्य द्वारा स्थापित देश के चार धामों में से एक है। यह पवित्र सप्तपुरियों में से एक है।

द्वारकाधीश मंदिर को जगत मंदिर (ब्रह्मांड मंदिर) भी कहा जाता है। कुछ लोगों का मत है कि महाभारत के युद्ध के बाद जब द्वारका जो भगवान कृष्ण का राज्य था, पानी में डूब गई थी तब इस मंदिर का निर्माण किया गया था।

यह मंदिर मुलायम चूने के पत्थर का बना हुआ है जिसमें दो द्वार हैं जिन्हें स्वर्ग द्वार और मोक्ष द्वार कहा जाता है जहाँ से भक्त क्रमश: प्रवेश करते हैं और बाहर निकलते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...