कहानियाँ

ईश्वर पर अटूट भरोसा – भगवान आपके साथ हैं

जाड़े का दिन था और शाम होने आयी । आसमान में बादल छाये थे । एक नीम के पेड़ पर बहुत से कौए बैठे थे । वे सब बार बार काँव-काँव कर रहे थे...

Who were the parents of Lord Krishna and how was he born?

The Story of Krishna’s Parents A long time ago, there was a King named Ugrasen, who had two children – a son named Kansa and a daughter named Devaki. Devaki was a gentle person, but...

भक्ति की शक्ति – भगवान् पर हमेशा भरोसा रखें

एक बार किसी गाँव में भयंकर सूखा पड़ गया | पानी के सारे साधन सूख गये | तब लोगो ने मिलकर इसी समस्या के निवारण के लिए सभा की | सबने तय किया कि...

श्री राम और गिलहरी के पीठ पर दो काली धारियों का क्या रहस्य है?

जब हम किसी भी प्राणी को देखते हैं तो उसकी शारीरिक संरचना देख कर कभी ना कभी मन में ये ख़याल अवश्य आता है की भगवान् ने इसे ऐसा क्यों बनाया जैसे जिराफ की...

सीता ही नही सभी भाइयो और पुत्रो का भी त्याग कर दिया था श्री...

श्री राम और सीता जी के प्रेम को हर कोई नहीं समझ सकता। कई घटिया सोच रखने वाले लोग आज भी श्री राम और सीता माता के चरित्र पर सवाल उठाते हैं। वह यह नहीं...

जाने विष्णु के वाराह अवतार के पीछे का रहस्य

भगवान् विष्णु के निवास स्थान बैकुंठ धाम के द्वारपाल जय और विजय नामक दो सगे भाई थे| दोनों पूरी मुस्तैदी और इमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्वाह कर रहे थे| एक दिनकी बात है...

जब एक पिता ने अपने ही पुत्र को अपनी बहन के हाथों मरवाना चाहा!

प्राचीन काल में असुरराज हिरन्यकश्यप नामक असुर के राज में आसुरी शक्तियां बहुत प्रबल होती जा रही थी| हिरन्यकश्यप बड़ा ही क्रूर और निर्दयी था उसने ब्रह्मा की घोर तपस्या की| उसकी तपस्या से...

10 सर क्यों थे रावण के? सच जान कर आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे

लोग  रावण को आज भी बुराई का प्रतिक के रूप में जानते है | रावण दहन इसका ज्वलंत उदाहरण है | विजयादशमी के दिन जब लोग रावण दहन होते देखते है तो निश्चय ही...

एक गौ की निस्वार्थ ममता ने दिया नया जीवन

एक दिन मंगलवार की सुबह वॉक करके रोड़ पर बैठा हुआ था,हल्की हवा और सुबह का सुहाना मौसम बहुत ही अच्छा लग रहा था,तभी वहाँ एक बड़ी गाडी आकर रूकी, और उसमें से एक...

बाबा खाटू श्याम कौन थे और क्या है उनकी कहानी

भारत में बहुत से चमत्कारिक धार्मिक स्थल हैं और “खाटू श्याम मंदिर” भी इन्हीं प्रसिद्द स्थलों में से एक है| यह मंदिर भीम के पोते और घटोत्कच के पुत्र बर्बरीक का है जहाँ इनकी...

किस प्रकार तोड़ा ज्वालामुखी देवी ने अकबर का अभिमान

हिन्दू धर्म की प्रचलित कथा के अनुसार भगवान शिव के तांडव से हो ब्रह्माण्ड में हो रहे हाहाकार से देवलोक को बचाने के लिए विष्णु जी ने अपने सुदर्शन चक्र से देवी सती के 51 टुकड़े किए थे...

आप एक अच्छे इंसान हैं, लेकिन क्या आप एक पुण्य आत्मा हैं?

एक औरत अपने बच्चे को एक संत व्यक्ति के पास लेकर गई। उसने संत से कहा, “मेरे डॉक्टर ने कहा है कि मेरे बेटे को मधुमेह है। इसलिये उसे मीठा नहीं खाना चाहिए। लेकिन...

क्यों मृत्यु नहीं है जीवन का अंत

मृत्यु का अर्थ है भौतिक शरीर से आत्मा का जुदा होना है। मृत्यु नये और बेहतर जीवन का एक प्रारंभिक बिन्दु बन जाता है। यह जीवन के उच्च रूप का द्वार खोलता है। यह...

रामकथा के इन घटनाक्रम से प्रेरणा लेकर इन्‍हें जीवन में आत्‍मसात करें

रावण वध कर, अयोध्या लौटने पर हम भगवान ​श्री राम के स्वागत में हर साल दीवाली का त्यौहार हर्षोउल्लास के साथ मनाते है। जबकि इसी उलट आज हम मुकाम हासिल करने के लिए एक...

चित्तौड़गढ़ की रानी पद्मावती का इतिहास

हर जगह रानी पद्मावती की चर्चा है जिसका कारण संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती है अब उन्होंने इस फिल्म में क्या दिखाया है यह तो फिल्म रिलीज होने के बाद ही पता चलेगा|...

जय संतोषी माँ – शुक्रवार व्रत कथा, विधि, आरती तथा उद्देश्य

शुक्रवार के दिन मां संतोषी का व्रत-पूजन किया जाता है। सुख-सौभाग्य की कामना के लिए माता संतोषी के 16 शुक्रवार तक व्रत किये जाने का विधान है। संतोषी माता उन देवी देवताओं में से एक...