धर्म

Hinduism is the World’s most sacred and the oldest religion. Hinduism is a way of life and is often called as the eternal law beyond human origins. Hindu practices include rituals such as worship and recitations, meditation, family-oriented rites of passage, annual festivals, and pilgrimages. Every Hindu should follow honesty, ahimsa, patience, forbearance, self-restraint, compassion….

जानें क्यों माता सीता को रखा गया था अशोक वाटिका में

भगवान विष्णु के अवतार एवं मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम के प्रति भक्तों की अपार श्रद्धा है| श्री राम का जीवन हमेशा धर्म के मार्ग पर चलना और मर्यादाओं का पालन करने का उपदेश देता है|  श्री राम की...

Why Ganga is considered as a Holy River? – History, Origin, Rituals and Places...

The GANGA, our national river is the largest river of Indian sub-continent, flowing east through the Gangetic Plains of Northern India into Bangladesh. The GANGA starts from western Himalayas in Uttarakhand. It is worshiped...

हिन्दू धर्म में तीसरे लिंग की महत्वपूर्ण भूमिका

आज समाज आवाज़ उठा रहा है तीसरे लिंग यानि ट्रांसजेंडर समुदाय को बराबर अधिकार दिलाने के लिए परन्तु हिन्दू धर्म के इतिहास में ट्रांसजेंडर समुदाय की महत्वपूर्ण भूमिका रही है| हिन्दू धर्म में ट्रांसजेंडर्स बहुचरा माता को...

हनुमान जी महाराज बनकर करते है भक्तों के दुख दूर

हनुमान जी की महिमा निराली है|भक्तों को मार्गदर्शन दिखाने वाले श्री राम जी के प्यारे हनुमान जी ने रामायण में मुख्य भूमिका निभाई है| महराभरात में भी हनुमान जी को दर्शाया गया है और उन्हें...
video

बृहस्पति देव की आरती

जय बृहस्पति देवा, ऊँ जय बृहस्पति देवा । छि छिन भोग लगाऊँ, कदली फल मेवा ॥ तुम पूरण परमात्मा, तुम अन्तर्यामी । जगतपिता जगदीश्वर, तुम सबके स्वामी ॥ चरणामृत निज निर्मल, सब पातक हर्ता । सकल मनोरथ दायक, कृपा...

इस तरह महाभारत युद्ध में दुर्योधन ने किया था पांडवों के मामा शल्य को...

जब कौरवों और पांडवों के मध्य महाभारत का युद्ध निश्चित हो गया तो दोनों ने युद्ध में सहायता पाने के लिए सभी राज्यों के राजाओं के पास अपने दूत भेजे| पांडवों की तरफ से एक दूत मद्रराज शल्य...

क्यों धर्म का पालन करना है हम सब के लिए ज़रूरी

एक बार भयानक सूखा पड़ा। सारे फसल नष्ट हो गये और जमीन बंजर हो गई। किसानों ने हार मान ली और बीजों को ना बोने का फैसला लिया। फसल बुवाई का यह चौथा साल...

भगवान शिव के प्रदोष व्रत रखने से होती है मोक्ष की प्राप्ति

प्रदोष व्रत भगवान शिव के लिए रखा जाता है| यह व्रत बहुत्त मंगलकारी होता है तथा इस व्रत को त्रयोदशी तिथि को रखा जाता है| यदि इस दिन आप व्रत रखें तो आपको भगवान...

क्यों नहीं अपनाया सूर्य देव ने अपने ही पुत्र शनि देव को

हिन्दू धर्म में शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है| शनि देव अपने पक्षपात रहित न्याय के कारण ही न्याय के देवता के रूप में पूजे जाते हैं| शनि देव के लिए यह...

श्री कृष्ण के सुदर्शन चक्र ने काशी को भस्म क्यों किया था

काशी कह लीजिए या बनारस, यह वो स्थान है जहां आत्मा को मोक्ष प्राप्त होता है। ऐसा कहा जाता है कि जो व्यक्ति काशी में आकर अपने प्राण त्यागता है उसे निश्चित रूप से...

दुर्गा माता की आरती

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी तुम को निस दिन ध्यावत मैयाजी को निस दिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवजी ।| जय अम्बे गौरी ॥ माँग सिन्दूर विराजत टीको मृग मद को |मैया टीको मृगमद को उज्ज्वल...

श्री कृष्ण की मूर्ति घर में लाने से पहले जान लें यह बातें

भगवान कृष्ण अपने हर रूप में भक्तों का मन मोह लेते हैं। चाहें वे रणछोर हों या माखनचोर, बृज के गोपाले हों या फिर गोपियों के वस्त्र हरण वाले शरारती बालक, उनका हर रूप...