पूजा के समय देवी देवताओं को चढ़ाएं कौन से फूल

हम सभी भगवान को प्रसन्न करना चाहते हैं ताकि हमारा जीवन खुशियों से भरा रहे और कष्टों से दूर रहे| इसीलिए भगवान को प्रसन्न करने के लिए हम भगवान की पूजा – अराधना करते हैं| परन्तु पूजा करते समय हमें कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए| जैसे सभी देवी देवताओं को अलग – अलग फूल पसंद हैं तो हमें उन्हें उनकी पसंद के फूल चढ़ाने चाहिए और फूल चढ़ाते समय हमें इन बातों का ध्यान भी रखना चाहिए|

पूजा में कभी बासी फूल अर्पित न करें|

चंपा की कली के अलावा किसी भी पुष्प की कली देवताओं को अर्पित नहीं की जानी चाहिए|

फूलों को हाथों से अर्पित न करें| फूल चढ़ाने के लिए फूलों को किसी पवित्र पात्र में रखना चाहिए और इसी पात्र में से लेकर देवी-देवताओं को अर्पित करना चाहिए|

आइए जानते हैं किन देवी देवताओं को कौन कौन से फूल पसंद हैं|

गणेश जी 

गणेश जी की पूजा करते समय ध्यान रखें कि उन्हें कभी तुलसी न चढ़ाएं| क्योंकि उन्हें तुलसी के अलावा सभी फूल पसंद है| गणेश जी को दूब बहुत प्रिय है| ध्यान रहे कि दूब की फुनगी में 3 या 5 पत्त‍ियां हों|

भगवान शिव 

भगवान शिव को सभी तरह के सुगंधित फूल पंसद हैं| चमेली, श्वेत कमल, शमी, मौलसिरी, पाटला, नागचंपा, धतूरा, शमी, खस, गूलर, पलाश, बेलपत्र, केसर उन्हें खास प्रिय हैं|

विष्णु जी 

विष्णु जी की पूजा में तुलसी को अवश्य शामिल करें| क्योंकि विष्णु जी को तुलसी बहुत प्रिय है| तुलसी के अलावा कमल, बेला, चमेली, गूमा, खैर, शमी, चंपा, मालती, कुंद आदि फूलों को भी आप पूजा में शामिल कर सकते हैं|

सूर्य 

सूर्य देव को आक का फूल बहुत प्रिय है| शास्त्रों के अनुसार सूर्य देव को एक फूल चढ़ाया जाये तो सोने की 10 अशर्फियां चढ़ाने का फल मिल जाता है| सूर्य देव को कभी धतूरा, अपराजिता, अमड़ा, तगर आदि न चढ़ाएं| सूर्य देव की पूजा के समय आप आक के फूल के अलावा उड़हुल, कनेर, शमी, नीलकमल, लाल कमल, बेला, मालती, अगस्त्य आदि चढ़ा सकते हैं|

श्री कृष्ण 

महाभारत में श्री कृष्ण ने युधिष्ठिर को बताया था कि उन्हें कुमुद, करवरी, चणक, मालती, पलाश व वनमाला के फूल प्रिय हैं।

हनुमान जी

हनुमान जी को लाल फूल प्रिय हैं| इसलिए इन्हे लाल गुलाब, लाल गेंदा आदि के पुष्प चढ़ाए जा सकते है।

भगवती गौरी

जो फूल भगवान शिव को पसंद हैं, वही फूल भगवती गौरी को भी चढ़ाए जा सकते हैं| इसके अलावा बेला, सफेद कमल, पलाश, चंपा के फूल भी चढ़ाए जा सकते हैं।

लक्ष्मी जी

माँ लक्ष्मी की पूजा करते समय कमल के फूल का प्रयोग करना चाहिए| क्योंकि कमल का फूल उन्हें बहुत प्रिय है| कमल के फूल के अलावा आप लक्ष्मी जी को पीले फूल या लाल गुलाब भी चढ़ा सकते हैं|

माँ दुर्गा

माँ दुर्गा को लाल गुलाब या लाल अड़हुल के पुष्प चढ़ाना श्रेष्ठ है|

माँ काली

माँ काली को अड़हुल का फूल बहुत पसंद है। शास्त्रों के अनुसार माँ काली को 108 लाल अड़हुल के फूल अर्पित करने से मनोकामना पूर्ण होती है|

माँ सरस्वती

सफेद गुलाब, सफेद कनेर या फिर पीले गेंदे के फूल माँ सरस्वती को बहुत प्रिय हैं| विद्या की देवी माँ सरस्वती को प्रसन्न करने के लिए सफेद या पीले रंग के फूल चढ़ाएं जाते हैं|

शनि देव

शनि देव को नीले या गहरे रंग के फूल जैसे नीले लाजवन्ती के फूल चढ़ाने से शनि देव शीघ्र ही प्रसन्न होते हैं।

आपके कमैंट्स
loading...